home page

UP News: यूपी सरकार का बड़ा फैसला, माता-पिता की देखभाल न करने वाले बच्चों को नहीं मिलेगी संपत्ति, नियमावली में संशोधन पर लगी मुहर

UP News :उत्तर प्रदेश में योगी सरकार ने माता-पिता भरण पोषण नियामवली संशोधन के लिए कुछ नए नियम जोड़ने जा रही है...

 | 
DWSDXASDX

Newz Funda, New Delhi हमको अक्सर सुनने में मिलता है कि बच्चों ने अपने माता-पिता को तंग किया. उनकी देखभाल नहीं की. बच्चों के व्यवहार से तंग आकर बुजुर्ग माता-पिता ने घर छोड़ दिया या फिर किसी वृद्ध आश्रम या कहीं और अपनी जिंदगी काट रहे हैं. 

कई बार तो बच्चे अपने बुजुर्ग माता-पिता को रास्ते में छोड़ कर चले जाते हैं. लेकिन अब यूपी सरकार की तरफ से एक ऐसा कानुन बनाया जा रहा है जिससे ऐसा करने वाले सभी बच्चों की अकल ठिकाने आ जाएगी. 

सरकार की तरफ से लागु किए गए कानुन के तहत जो भी बच्चा अपने माता-पिता का ख्याल नहीं रखेगा उसे संपत्ति से बेदखल कर दिया जाएगा.  इस कानुन को जल्दी से जल्दी लागु करने के लिए उत्तर प्रदेश माता-पिता भरण-पोषण एवं कल्याण नियमावली में संशोधन के प्रस्ताव पर कैबिनेट की बैठक में मुहर लग सकती है. 

यूपी की योगी सरकार संतानों के लिए संपत्ति पर अधिकार की नियमावली में संशोधन करने जा रही है.

आज कैबिनेट की बैठक

इस कानुन के विषय मे चर्चा के लिए सीएम योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में आज बैठक होगी. इसमें पहले से लागु माता-पिता भरण पोषण नियमावली में संशोधन के लिए बिंदु 22 पर कुछ और उप नियम जोड़े जाएगें. 

बताया जा रहा है कि इसके तहत SDS की अध्यक्षता में गठित ट्रिब्युनल को यह अधिकार होगा कि वह माता-पिता को ध्यान रखने वाले को संपत्ति से बेदखल कर सके. इस फैसले को लागु करने की जिम्मेदारी भी एसडीएम की ही होगी.  

इस फैसले के खिलाफ अपील डीएम की अध्यक्षता में गठित अधिकरण में की जा सकेगी.  इसके तहत वरिष्ठ नागरिकों का भरण पोषण तथा कल्याण नियमावली 2014 को संशोधित किया जाएगा.

बताया जा रहा है कि इस कानुन के लागु होने के बाद प्रदेश में माता-पिता की देखभाल न करने वाले बच्चों की संख्या मे कमी होने की पुरी-पुरी संभावना है.