home page

चाणक्य निति ! औरत को खुश करने के लिए आजमाएं घोड़े की यह आदतें, एक क्लिक में जाने !

आचार्य चाणक्य अपने समय में एक महान विद्वान और राजनीतिज्ञ थे. उनके आदेशों पर आज भी लोग अमल करतें हैं. उनकी नीतियाँ लोगो को ह्रदय और मस्तिक्ष में विराजमान हैं. चाणक्य ने लोगो के जीवन से जुडी कई बातों को उल्लेख किया हैं.
 | 
चाणक्य निति ! औरत को खुश करने के लिए आजमाएं घोड़े की यह आदतें, एक क्लिक में जाने !

Newz Funda, New Delhi: आचार्य चाणक्य अपने समय में एक महान विद्वान और राजनीतिज्ञ थे. उनके आदेशों पर आज भी लोग अमल करतें हैं. उनकी नीतियाँ लोगो को ह्रदय और मस्तिक्ष में विराजमान हैं. चाणक्य ने लोगो के जीवन से जुडी कई बातों को उल्लेख किया हैं.

यदि कोई व्यक्ति उनकें बताए मार्ग पर चलता है तो वह अवश्य ही सफल होता हैं. यदि कोई भी व्यक्ति अपने शादीशुदा जिंदगी में चाणक्य नीति अपनाता है तो उसकी शादीशुदा जिंदगी हमेशा खुशियों से पूर्ण रहती है.

आज हम आपको आचार्य की एक ऐसी निति के बारें में ही बताएँगे जिस से औरतें किस प्रकार उनकी तरफ खींची चली आती है. आचार्य चाणक्य के अनुसार पति पत्नी को अपने रिश्ते में जानवरों की खूबियां अपनानी चाहिए, उन्होंने जानवर घोड़े के व्यवहार को महत्व दिया है.

आचार्य चाणक्य की इस निति के मुताबिक अगर कोई भी व्यक्ति घोड़े की इन खूबियों को अपने जीवन में अमल करता है, तो वह औरतों पर आसानी से काबू करना सीख जाता है. 

वीरता

वीरता कुत्ते और घोड़े का सबसे शानदार गुण हैं. इन जानवरों की तरह हर इंसान में वीरता जरूर होनी चाहिए. एक मर्द को हमेशा अपनी महिला को संतुष्ट रखना चाहिए, स्त्री जितना चाहे उसे शारीरिक सुख देने में समर्थ होना चाहिए.

थोड़े में संतुष्ट रहना

आपको थोड़े में ही संतुष्ट रहने की आदत डालनी होगी क्यूंकि हर व्यक्ति को अपनी मेहनत से ज्यादा फल की इच्छा नहीं रखनी चाहिए, अगर आपके मन में किस चीज की लालच रखतें है तो यह बात आपकी स्त्री को कभी पसंद नहीं आ सकती. 

वफादारी

घोड़े और कुत्ते जैसे जानवरों के अंदर आपको सबसे ज्यादा वफादारी देखने को मिलेगी. ठीक इसी तरह आपको अपनी पत्नी के प्रति वफादार रहना होगा. यह गुण आपको बाकि सब से अलग बनता है. आप अपनी वफादारी के जरिए ही अपनी पत्नी का दिल जीत सकतें हैं.