home page

कंगना रनौत के मन में सांसद बनने की चाह, जेपी नड्डा ने दिया ये जवाब

नड्डा ने कहा कि हम तो सबको चाहते हैं कि कांगना आएं, क्योंकि पीएम मोदी हमारी पार्टी के नेता हैं और प्रधानमंत्री हैं और स्पष्ट किया कि चुनाव लड़ाने का फैसला पार्टी लेगी।

 | 
kangna

Newz Funda, New Delhi बॉलीवुड का जाना माना चहरा कंगना रनौत ने शनिवार को एक मीडिया कार्यक्रम में शामिल होते हुए राजनीति में प्रवेश के संकेत दिए।

उन्होंने 2024 के लोकसभा चुनाव में अपना चुनाव लड़ना उन्होंने बीजेपी पर छोड़ दिया। कंगना ने कहा कि यदि बीजेपी चाहेगी तो वह चुनाव लड़ने के लिए तैयार हैं।

बॉलीवुड एक्ट्रेस के इस बयान पर बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कंगना का भाजपा में स्वागत किया और स्पष्ट किया कि चुनाव लड़ाने का फैसला पार्टी लेगी। साथ ही जेपी नड्डा ने प्रेम कुमार धूमल के टिकट करने पर भी बयान दिया। उन्होंने इसे पार्टी का फैसला बताया।

चुनाव लड़ने पर बोले नड्डा: अकेले मेरा नहीं होता फैसला

कार्यक्रम के दौरान कंगना को लेकर पूछे गए एक सवाल पर भाजपा नेता जेपी नड्डा ने कहा कि हम तो सबको चाहते हैं कि वे आएंए क्योंकि पीएम मोदी हमारी पार्टी के नेता हैं और देश प्रधानमंत्री हैं।

प्रधानमंत्री से  प्रभावित होकर देश में अच्छा महौल बना है। इसलिए अगर वो भी शामिल होना चाहती हैं तो उनका पार्टी में स्वागत है। किसी को कंडीशनल नहीं शामिल किया जाता।

जब भी कोई पार्टी में आता है तो हमेशा उससे कहते हैं कि आपको बिना किसी कंडीशन के आना होगा और फिर पार्टी जिम्मेदारी तय करेगी। साथ ही उन्होंने पार्टी चुनावा को लेकर कहा कि जहां तक चुनाव लड़ने का सवाल है तो टिकट देना यह अकेला मेरा फैसला नहीं होता है।

जमीनी स्तर से लेकर सबसे श्रेष्ट स्तर तक विचार-विमर्श का प्रोसेस चलता है। यह मामला पार्लियामेंट्री बोर्ड तक जाता है। उन्होंने कहा है कि तो उस समय {2024 लोकसभा चुनाव} जैसी बात आएगी, उसके हिसाब से तय किया जाएगा।

टिकट देने पर पार्टी का होगा फैसला 

कंगना रनौत पिछले कुछ समय से बीजेपी और उनके नेताओं का समर्थन करती रही हैं। उन्होंने पार्टी कार्यों में दिलचस्पी के साथ ही पार्टी में शामिल होने की इच्छा जाहिर भी की।

लेकिन जब जेपी नड्डा ने पूर्व सीएम प्रेम कुमार धूमल के टिकट कटने पर बात की। तो उन्होंने कहा कि प्रेम कुमार धूमल को टिकट न दिया जाना पार्टी का फैसला है।

साथ ही उन्होंने कहा कि लोगों का प्यार उनके साथ हैं, हम सम्मान करते हैं। जेपी नड्डा ने कहा कि हम सब को साथ लेकर चल रहे हैं। उन्होंने यह स्पष्ट किया कि धूमल ने खुद प्रधानमंत्री को पत्र लिखा था कि मैं चुनाव नहीं लडूंगा।