home page

IIT दिल्ली से पासआउट हैं बिहार के ये सुपर कॉप, UPSC में गाड़ चुके हैं सफलता के झंडे; पढ़िए साहसी IPS की कहानी

बिहार के आईपीएस अधिकारी अमित लोढ़ा की गिनती आज देश के पॉपुलर अधिकारियों में होती है।

 | 
fsda

Newz Funda, New Delhi IPS Amit Lodha की success story आपको बता रहे हैं। जिनकी गिनती आज देश के होनहार अधिकारियों में होती है।

उनकी काबिलियत के बल पर वे कई मामलों को सुलझा चुके हैं। जो बड़ा दर्द बने हुए थे। बिहार के आईपीएस अधिकारी अमित लोढ़ा राज्य और देश के सबसे पॉपुलर अफसरों में से एक हैं।

उनकी कई उपलब्धियों ने उन्हें वास्तव में 'सुपर कॉप' बना दिया है। बिहार के सबसे खूंखार अपराधियों में से एक, चंदन महतो या 'शेखपुरा के गब्बर सिंह' के साथ उनकी टसल काफी दिलचस्प है।

हाल ही में, नेटफ्लिक्स पर एक वेब सीरीज़- 'खाकी: द बिहार चैप्टर' रिलीज़ हुई और यह आईपीएस अधिकारी अमित लोढ़ा के जीवन पर आधारित है। अमित लोढ़ा IIT दिल्ली से ग्रेजुएट हैं जिन्होंने फर्स्ट अटेंप्ट में UPSC क्रैक कर लिया था।

आईआईटी वास्तव में देश के प्रमुख संस्थान हैं लेकिन अमित लोढ़ा के लिए अनुभव बहुत अच्छा नहीं रहा। एक रिपोर्ट के मुताबिक IIT दिल्ली में होना उनके जीवन के "भयानक" अनुभवों में से एक था।

हालाँकि, अमित ने पहले ही प्रयास में IIT की प्रवेश परीक्षा पास कर ली, लेकिन 'IIT-Led' की उम्मीदों ने उन्हें हीन महसूस कराया।

करना चाह रहे थे सुसाइड
एक इंटरव्यू में, अमित लोढ़ा ने कहा कि वह डिप्रेशन में थे और यहां तक ​​कि सुसाइड करने के विचार भी थे। उनके ग्रेड बिगड़ने लगे और यहां तक ​​कि उनके साथियों ने भी उनसे किनारा कर लिया।

एनवायरमेंट में फिट नहीं होने की भावना ने उनके डिप्रेशन को बढ़ा दिया और उन्हें दुनिया में "सबसे अनलकी" महसूस कराया।

और वापस पा लिया आत्मविश्वास
यूपीएससी परीक्षा में सफल होने के बाद अमित की लाइफ एकदम पलट गई। इससे उन्हें अपना आत्मविश्वास वापस पाने में मदद मिली।

वह IIT में रहते हुए गणित में E ग्रेड प्राप्त करते थे लेकिन वे UPSC में इस सब्जेक्ट में टॉपर्स में से एक थे। आईपीएस अमित लोढ़ा के नाना एक आईएएस अधिकारी थे और अमित हमेशा 'मैन इन यूनिफॉर्म' से प्रभावित थे।

बिहार में पोस्टिंग से पहले अमित राजस्थान में पोस्टेड थे। जनता के प्रति उनके व्यवहार ने उन्हें पॉपुलर कर दिया। मसलन, आईपीएस अमित लोढ़ा हमेशा लोगों से कहते हैं कि कोई दिक्कत होने पर सीधे उनके लैंडलाइन नंबर पर कॉल करें।

वह एक लोक सेवक की छवि को एक उपयुक्त तरीके से देखते हैं। यूपीएससी की अपनी तैयारी के बारे में बताते हुए अमित ने बताया कि वह सुबह 4 बजे नहीं उठते बल्कि उन्होंने एक शेड्यूल बनाया और उसका पालन किया।