home page

इन तीन कारणों के चलते Aftab ने किया था Shraddha का Murder, पॉलीग्राफ टेस्ट में सामने आई सच्चाई

श्रद्धा हत्याकांड में लगातार पुलिस के सामने चौंकाने वाली बातें सामने आ रही हैं।

 | 
afd

Newz Funda, New Delhi Shraddha Walkar Murder case आज देशभर में छाया हुआ है। हर कोई इस मामले में लगातार हो रहे खुलासों को लेकर सन्न है।

श्रद्धा वालकर अपने हत्यारोपी यानी लिव-इन पार्टनर आफताब अमीन पूनावाला से बेइंतहा प्यार करती थी और उसके प्रति पूरी तरह से समर्पित थी।

पता लगा है कि लेकिन आफताब उसे धोखा दे रहा था। पॉलीग्राफ टेस्ट के दौरान आफताब ने कबूला है कि वह कई लड़कियों के संपर्क में था। जिसके कारण श्रद्धा से उसकी दूरियां बढ़ती जा रही थीं।

दिल्ली के छतरपुर इलाके में मई महीने में हुए श्रद्धा वालकर हत्याकांड मामले (Shraddha Walkar Murder case) को लेकर पुलिस भी लगातार पड़ताल कर रही है।

मामले में आफताब अमीन पूनावाला (Aftab Amin Poonawala) पर आरोप है कि उसने अपनी लिव-इन पार्टनर श्रद्धा की हत्या कर उसके शव के साथ दरिंदगी की सारी हदें पार कर दी।

उनसे शव के करीब 35 टुकड़े कर फ्रिज में रखा और महीनों तक उन्हें अलग-अलग जगहों पर ठिकाने लगाता रहा।

इस हत्याकांड को लेकर देश में आक्रोश का माहौल बना हुआ है। सभी के मन में रह-रहकर एक ही बात आ रही है कि आखिर वो कौन-सी वजह है, जिसके चलते आफताब ने अपनी प्रेमिका श्रद्धा को मौत के घाट उतार दिया।

अब तक की पुलिस जांच में हमारे सामने ऐसी तीन वजहें सामने आ रही हैं।

श्रद्धा छुड़ाना चाहती थी पीछा 
श्रद्धा वालकर हत्याकांड मामले के आरोपित आफताब ने पॉलीग्राफ टेस्ट में हत्या का राज उगलना शुरू कर दिया है। आफताब के कई लड़कियों से संबंध थे, आफताब की यह करतूतें श्रद्धा को पता चल गई थीं।

इस पर आफताब ने श्रद्धा पर भी अन्य लड़कों से संबंध होने का आरोप लगा दिया, इसे लेकर दोनों के बीच आए दिन झगड़ा हो रहा था। इसी के चलते दोनों एक-दूसरे से अलग होना चाहते थे, लेकिन आफताब श्रद्धा को छोड़ना नहीं चाहता था।

रोज-रोज के झगड़े से तंग आकर आफताब ने हत्या की साजिश रच डाली और एक दिन उसने श्रद्धा को मौत की ऐसी नींद सुला दी, जहां से वह अब कभी नहीं उठ सकेगी।

शादी के लिए दबाव 
गिरफ्तारी के बाद आफताब ने पुलिस पूछताछ में ऐसा दावा किया था कि लिव-इन पार्टनर श्रद्धा उस पर शादी करने का दबाव बना रही थी। श्रद्धा की इस जिद से आफताब तंग आ चुका था।

वह किसी भी तरीके से श्रद्धा से अपना पीछा छुड़ाना चाहता था। इसलिए उसने एक योजना के तहत इस हत्याकांड को अंजाम दिया।

आफताब की हिंसक प्रवृत्ति बनी हत्या की वजह
विशेषज्ञों का मानना है कि इस तरह के हिंसक अपराधों के पीछे संवाद की कमी और अत्यधिक गुस्सा जैसी वजहें होती हैं।

बता दें कि श्रद्धा ने आफताब की हिंसक प्रवृत्ति से परेशान होकर नवंबर, 2020 में मुंबई के तूलिंज पुलिस स्टेशन में एक शिकायत दी थी। इसमें श्रद्धा ने बताया था कि आफताब से उसे जान का खतरा है।

शिकायत में श्रद्धा ने यह भी कहा था कि आफताब उसके शरीर के टुकड़े टुकड़े करने की धमकी देता है। यह धमकी 18 मई, 2022 को सच साबित हुई।